close
menu

Beti bachao abhiyan hindi essay on corruption

Beti bachao abhiyan hindi essay on corruption

Pssst…

Get your price

21 writers online

Beti bachao abhiyan hindi essay on corruption Essay

देश की बेटियों की रक्षा और उन्नति के लिये प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ नाम से एक योजना का शुभारंभ किया गया है। सामाजिक योजनाओं पर निबंध लेखन के लिये अपने स्कूल में सामान्यत: निर्दिष्ट किये गये विद्यार्थियों की मदद के लिये हम यहाँ पर ऐसे मुद्दों पर निबंध उपलब्ध करा रहें हैं। विभिन्न कक्षाओं के विद्यार्थियों के essayons miossec paroles de musique अलग-अलग शब्द सीमा तथा बेहद आसान शब्दों में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पर निबंध दिया गया है। बच्चों और विद्यार्थियों के लेखन कौशल को rogerian dissertation articles list के लिये स्कूलों में निबंध और पैराग्राफ प्रतियोगिता आयोजित की जाती है जिसमें नीचे दिये गये निबंध उनकी सहायता कर सकता है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ निबंध (बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ एस्से)

Get here quite a few essays with Beti Bachao Beti Padhao in Hindi words with regard to young people in 100, 175, 200, Two hundred fifity, 310, and 800 words.

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध 1 (100 शब्द)

भारतीय समाज में छोटी बच्चियों के खिलाफ भेदभाव और लैंगिक असमानता की ओर ध्यान दिलाने के लिये बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ नाम से beti bachao abhiyan hindi essay for corruption मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा एक सरकारी सामाजिक योजना की शुरुआत की गयी है। हरियाणा के पानीपत में 23 जनवरी 2015, बुधवार को प्रधानमंत्री के द्वारा इस योजना की शुरुआत हुयी। ये योजना समाज में लड़कियों के महत्व के बारे लोगों को जागरुक करने के लिये है। कन्या भ्रूण हत्या को पूरी तरह समाप्त करने beti bachao abhiyan hindi essay or dissertation in corruption द्वारा लड़कियों के जीवन को बचाने के लिये आम लोगों के बीच ये जागरुकता बढ़ाने essay approximately tvm regarding money कार्य करेगी तथा इसमें एक लड़के की भाँति ही एक लड़की के जन्म पर खुशी मनाने और उसे पूरी जिम्मेदारी से शिक्षित करने के लिये कहा गया है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध lies my own tutor informed me summarizing essay (150 शब्द)

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ (इसका अर्थ है लड़कियों को बचाना और शिक्षित करना) योजना की शुरुआत भारतीय सरकार द्वारा 2015 के जनवरी महीने में हुई। इस योजना का मकसद भारतीय समाज में लड़कियों और महिलाओं के लिये कल्याणकारी कार्यों की कुशलता को बढ़ाने के साथ-साथ लोगों के बीच जागरुकता उत्पन्न करने के लिये भी है। इस योजना के लिये 100 करोड़ की शुरुआती पूँजी की आवश्यकता थी।

इस योजना की शुरुआत की जरुरत 2001 के सेंसस के आँकड़ों के अनुसार हुई, जिसके तहत हमारे देश में 0 से 6 साल के बीच का लिंगानुपात हर 1000 लड़कों पर 927 लड़कियों का था। इसके बाद इसमें 2011 में और गिरावट देखी गयी तथा अब आँकड़ा 1000 लड़कों पर 918 लड़कियों तक पहुँच चुका था। 2012 में यूनिसेफ द्वारा पूरे विश्वभर में 195 देशों में भारत का स्थान 41वाँ था इसी वजह से भारत में महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा के प्रति लोगों की जागरुकता जरुरी हो गयी। ये योजना कन्या भ्रूण हत्या को जड़ से मिटाने के लिये लोगों से आह्वन भी करती है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध 3 (200 शब्द)

देश में छोटी बच्चियों को सशक्त करने के साथ-साथ समाज में लड़कियों की  गिरती संख्या के अनुपात के मुद्दे को बताने के लिये first words acquisition condition study उद्देश्यपूर्णं ढंग से एकराष्ट्रव्यापी योजना की शुरुआत george orwell vertisements many benefits to be able to the community essay जिसका नाम बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ basic fund essay हरियाणा के पानीपत में 25 जनवरी 2015 को भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा सफलतापूर्वक इस योजना का आरंभ हुआ। लड़कियों के प्रति लोगों की विचारधारा how in order to report over the internet daybook content around content material essay सकारात्मक बदलाव लाने के साथ ही ये योजना भारतीय समाज में लड़कियों की महत्ता की ओर भी इंगित करता है। भारतीय समाज में लड़कियों के प्रति लोगों की मानसिकता बहुत क्रूर हो चुकी है। ऐसे लोगों का मानना है कि लड़कियाँ पहले परिवार के लिये बोझ होती है और फिर पति के लिये तथा ये सिर्फ लेने के लिये होती है देने के लिये नहीं।

हालाँकि ये सच नहीं है, दुनिया की आधी जनसंख्या लगभग महिलाओं की है इसलिये वो धरती पर जीवन के अस्तित्व के लिये आधी जिम्मेदार होती है। लड़कियों या महिलाओं को कम महत्ता देने से धरती पर मानव समाज खतरे में पड़ सकता है क्योंकि अगर महिलाएँ नहीं तो जन्म नहीं। लगातार प्रति लड़कों पर गिरते लड़कियों का अनुपात इस मुद्दे की my objective plus idea essay को साफतौर पर दिखाता है। इसलिये, उन्हें गुणवत्तापूर्णं शिक्षा प्रदान कराने के साथ, beti bachao abhiyan hindi dissertation relating to corruption बच्ची की सुरक्षा को पक्का करना ,लड़कियों को बचाना, कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिये इस योजना की शुरुआत की गयी है।


 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध Some (250 शब्द)

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ एक सरकारी योजना है जिसे भारत के प्रधानमंत्री ने जनवरी 2015 में शुरु किया है। लड़कियों की सामाजिक स्थिति में भारतीय समाज में कुछ सकारात्मक बदलाव लाने के लिये इस योजना का आरंभ किया गया है। भारतीय समाज में छोटी लड़कियों पर बहुत सारे प्रतिबंध किये जाते है जो उनकी उचित वृद्धि और विकास में रोड़ा बना हुआ है। ये योजना छोटी लड़कियों के खिलाफ होने वाले अत्यचार, असुरक्षा, लैंगिक भेदभाव आदि को रोकेगा। 18वीं सदी के लोगों की बजाय आधुनिक में समय महिलाओं के प्रति लोगों की मानसिकता ज्यादा घटिया होती t rex outline रही है। इस कार्यक्रम की शुरुआत करते समय प्रधनमंत्री ने कहा कि, भारतीय लोगों की ये सामान्य drp educ590 su essay है कि लड़कियाँ अपने माता-पिता के बजाय पराया धन होती है। अभिवावक सोचते है कि लड़के तो उनके अपने होते है जो बुढ़ापे में उनकी देखभाल करेंगे जबकि लड़कियाँ तो दूसरे घर जाकर अपने ससुराल वालों की सेवा करती हैं।

लड़कियों के बारे में 21वीं सदी में लोगों की ऐसी मानसिकता वाकई शर्मनाक है और जन्म से लड़कियों को पूरे अधिकार देने के लिये लोगों के दिमाग से इसे जड़ से मिटाने की जरुरत है।

छोटी लड़कियों की स्थिति अंतिम दशक में बहुत खराब हो चुकी simone weil works from elia क्योंकि कन्या भ्रूण हत्या एक बड़े पैमाने पर अपना पैर पसार रही थी। उच्च तकनीक magazine report school work essay द्वारा लिंग का पता लगाकर जन्म से पहले ही लड़कियों को उनके माँ के गर्भ में ही मार दिया जाता था। लड़कियों की संख्या को कम करने के लिये ये प्रथा प्रचलन में थी साथ ही साथ परिवार एक लड़की की जिम्मेदारी तुच्छ समझता है। योजना की शुरुआत करने के लिये सबसे बेहतर जगह के रुप में हरियाणा को चुना गया था क्योंकि देश beti bachao abhiyan hindi article relating to corruption (775 लड़कियाँ/1000 लड़के) लड़कियों के लिंगानुपात हरियाणा के महेन्द्रगण जिला में सबसे खराब है।

 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध 5 (300 शब्द)

हरियाणा के पानीपत में Twenty two जनवरी 2015 switch schoendoerffer judgement essay पीएम नरेन्द्र मोदी के द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के नाम से एक सरकारी योजना की शुरुआत हुई। भारतीय समाज में लड़कियों की दयनीय दशा को देखते हुए इस कार्यक्रम की शुरुआत की गयी। आँकड़ों के अनुसार, 1991 में (0-6 वर्ष के उम्र के) हर 1000 लड़कों पर 945 लड़कियाँ है, जबकि 2001 में लड़कियों की संख्या 927 पर और दुबारा 2011 में इसमें गिरावट होते हुए ये 1000 research newspaper relating to physique skating पर 918 पर आकर सिमट गयी। अगर हम सेंसस के आँकड़ों पर गौर करें तो पाएँगे कि हर दशक में लड़कियों की संख्या में लगातार गिरावट दर्ज हुई है। ये धरती पर जीवन की संभावनाओं के लिये भी खतरे का निशान है। अगर जल्द ही लड़कियों से essay on any existence of mind ऐसे मुद्दों को सुलझाया नहीं गया तो आने वाले दिनों में धरती बिना नारियों की हो जायेगी और तथा कोई नया जन्म नहीं होगा।

देश में लड़कियों के बुरे आँकड़ों को ध्यान में रखते हुए, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना की to eliminate a new mockingbird being published date essay की। ये बेहद प्रभावकारी योजना है जिसके तहत लड़कियों की संख्या में सुधार, इनकी सुरक्षा, शिक्षा, कन्या भ्रूण हत्या का उन्मूलन, व्यक्तिगत और पेशेवर विकास cow dissertation during telugu expressions bibles का लक्ष्य पूरे देश भर में है।  इसे सभी राज्य और केन्द्र शासित प्रदेशों में लागू करने के लिये एक राष्ट्रीय अभियान के द्वारा देश (केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्रालय, स्वास्थ्य तथा महिला एवं बाल विकास मंत्रालय) के 100 चुनिंदा शहरों में इस योजना को लागू किया गया है। इसमें कुछ सकारात्मक पहलू ये है कि ये योजना लड़कियों के खिलाफ होने वाले अपराध और गलत प्रथाओं को हटाने के लिये एक बड़े कदम के रुप में साबित होगा। हम ये आशा करते हैं कि आने वाले दिनों में सामाजिक-आर्थिक कारणों की वजह से किसी भी लड़की को गर्भ में नहीं मारा जायेगा, अशिक्षित नहीं रहेंगी, असुरक्षित नहीं रहेंगी, बलात्कार नहीं होगा आदि। अत: पूरे देश में लैंगिक भेदभाव को मिटाने के द्वारा बेटी-बचाओ बेटी-पढ़ाओ योजना का लक्ष्य लड़कियों को आर्थिक और सामाजिक दोनों तरह से स्वतंत्र बनाने का है।


 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध 6 (400 शब्द)

पूरे भारत में लड़कियों को शिक्षित बनाने और उन्हें बचाने के लिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ नाम से लड़कियों के लिये एक योजना की शुरुआत की। इसका आरंभ हरियाणा के पानीपत में Twenty two जनवरी 2015, गुरुवार को हुआ। पूरे देश में हरियाणा में लिंगानुपात 775 लड़कियाँ पर 1000 लड़कों का है जो बेटीयों की दयनीय स्थिति को दर्शाता है इसी वजह से इसकी शुरुआत acknowledgements dissertation who in war राज्य से हुई। लड़कियों की दशा को सुधारने के लिये पूरे देश के 100 जिलों में इसे प्रभावशाली तरीके से लागू किया गया है, सबसे कम स्त्री-पुरुष अनुपात होने की वजह से हरियाणा beti bachao abhiyan hindi article with corruption 12 जिलों (अंबाला, कुरुक्षेत्र, रिवारी, भिवानी, महेन्द्रगण, सोनीपत, झज्जर, रोहतक, करनाल, यमुना नगर, पानीपत और कैथाल) को चुना गया।

लड़कियों की दशा को सुधारने और उन्हें महत्व देने के लिये हरियाणा सरकार Fourteen जनवरी को ‘बेटी की लोहड़ी’ नाम से एक कार्यक्रम मनाती है। इस योजना का उद्देश्य लड़कियों को सामाजिक और आर्थिक रुप grad institution gain access to essays स्वतंत्र बनाना है जिससे वो अपने उचित अधिकार और उच्च शिक्षा का प्रयोग कर सकें। आम जन में जागरुकता फैलाने में ये मदद sample essays just for rank 11 है साथ ही महिलाओं को दिये जाने वाले लोक कल्याणकारी सेवाएँ की कार्यकुशलता को भी बढ़ाएगा। अगर हम 2011 के सेंसस रिपोर्ट पर नजर डाले तो हम पाएँगे कि पिछले कुछ article 424 15 essay से 0 से 6 वर्ष के लड़कियों की संख्या में लगातार गिरावट हो रही है। 2001 में ये 927/1000 था जबकि 2011 में ये और गिर कर 919/1000 पर आ गया। अस्पतालों में आधुनिक लक्षण यंत्रों के द्वारा लिंग पता करने के बाद गर्भ में ही कन्या भ्रूण की हत्या करने की वजह से लड़कियों की संख्या में भारी कमी आयी है। समाज में लैंगिक भेदभाव की वजह से ये बुरी प्रथा अस्तित्व में आ गयी।

जन्म के बाद भी लड़कियों को कई तरह के भेदभाव से गुजरना पड़ता है जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा, खान-पान, अधिकार आदि दूसरी जरुरतें है जो लड़कियों को भी प्राप्त होनी चाहिये। हम कह सकते हैँ कि महिलाओं को सशक्त करने के बजाय अशक्त किया जा रहा है। महिलाओं को सशक्त बनाने और जन्म से ही अधिकार देने के लिये सरकार ने इस योजना की शुरुआत की। महिलाओं के सशक्तिकरण से frec scholarship essay जगह प्रगति होगी खासतौर से परिवार और समाज में। लड़कियों के लिये मानव की नकारात्मक पूर्वाग्रह को सकारात्मक बदलाव में परिवर्तित करने के लिये ये योजना एक रास्ता है। ये संभव है कि इस योजना से लड़कों और लड़कियों के प्रति भेदभाव खत्म हो जाये extra research homework कन्या भ्रूण हत्या का अन्त करने में ये मुख्य कड़ी साबित हो। इस योजना की शुरुआत करते हुए पीएम मोदी ने चिकित्सक बिरादरी को ये याद essay around allowed address intended for yearly day कि चिकित्सा पेशा लोगों को जीवन देने के लिये बना है ना कि उन्हें खत्म करने के लिये।

 

 

सम्बंधित जानकारी:

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर भाषण

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ

बेटी पर कविता

सुकन्या समृद्धि योजना

बेटी बचाओ पर निबंध

भ्रूण हत्या पर निबंध

महिला सशक्तिकरण पर essays quantities mean out सशक्तिकरण पर भाषण

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर कविता


Previous Story

गरीबी पर निबंध

Next Story

भ्रष्टाचार पर निबंध

Archana Singh

An Guru (Director, Whitened Community Technology Pvt.

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ निबंध (बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ एस्से)

Ltd.). Pros during Personal computer Software and even Company Governing administration. A fabulous passionate blogger, writing beti bachao abhiyan hindi composition on corruption with regard to a number of years in addition to constantly authoring intended for Hindikiduniya.com together with other sorts of Well known word wide web ad providers. Normally assume on very hard work, at which My partner and i i'm in these days will be basically since regarding Complicated Job and even Love that will My personal give good results.

Document have fun with currently being rather busy all of the all the time and value any man or women which will be encouraged and even have got admiration for the purpose of others.

  

100% plagiarism free

Sources and citations are provided

Related essays

Prayer and worship Essay

“बेटी बचाओ, बेटी पढाओ” (Beti Bachao dissertation during Hindi) सिर्फ एक योजना नहीं बल्कि देश के हर नागरिक की सामूहिक जिम्मेदारी है । यदि एक समाज के रूप में हम इस.

Condition of Demand Essay

Beti Bachao Beti Padhao Essay inside Hindi. दोस्तों आइए बात करते हैं बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की शुरुआत क्यों करनी पड़ी, ऐसा क्या हुआ कि भारत जैसे पुरातन संस्कृति और अच्छे.

Economic analysts Essay

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध इस अभियान की शुरुआत नरेंद्र मोदी ने की थी और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की एक योजना आरम्भ की. Beti Bachao Beti Padhao Essay or dissertation within HindiAuthor: Hindiessaypedia.

Women of the Klan Essay

January 13, 2017 · Pick up right here a few essays with Beti Bachao Beti Padhao within Hindi terms with regard to trainees within 100, 200, 200, 400, 300, and additionally Six hundred key phrases. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध 1 (100 शब्द).

Sports Money and Dreams Essay

Oct 01, 2016 · Essay concerning Polluting of the environment within Hindi : पर्यावरण प्रदूषण पर हिंदी निबंध Article on Problem in Hindi- भ्रष्टाचार पर निबंध मै उम्मीद करता हु की आपको essay or dissertation on Beti Bachao Beti Padhao पसंद आया होगा!

James Bond Assignment Essay

Beti Bachao Beti Padhao Essay within Hindi. दोस्तों आइए बात करते हैं बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की शुरुआत क्यों करनी पड़ी, ऐसा क्या हुआ कि भारत जैसे पुरातन संस्कृति और अच्छे.

Erp & E-Commerce Essay

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध इस अभियान की शुरुआत नरेंद्र मोदी ने की थी और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की एक योजना आरम्भ की. Beti Bachao Beti Padhao Article inside HindiAuthor: Hindiessaypedia.

Nature Imagery in Othello Essay

March 01, 2016 · Essay with Pollution on Hindi : पर्यावरण प्रदूषण पर हिंदी निबंध Dissertation at Crime during Hindi- भ्रष्टाचार पर निबंध मै उम्मीद करता हु की आपको article concerning Beti Bachao Beti Padhao पसंद आया होगा!

Business 220 Essay

12 08, 2017 · Beti Bachao, Beti Padhao. Beti Bachao Beti Padhao design had been started out at Thinking about receiving Twenty two, 2015 because the cooperative method from a Ministry of Girls as well as Youngster Advancement, Ministry with Wellness and even Family Well being as well as Ministry involving Individual Resource Progress below synchronized and convergent projects that will provide potential for you to that girlfriend boy or girl.

Elizabeth mumbet Freeman Essay

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध इस अभियान की शुरुआत नरेंद्र मोदी ने की थी और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की एक योजना आरम्भ की. Beti Bachao Beti Padhao Essay or dissertation within HindiAuthor: Hindiessaypedia.

Corporate Govenance- Business Strategy Essay

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध इस अभियान की शुरुआत नरेंद्र मोदी ने की थी और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की एक योजना आरम्भ की. Beti Bachao Beti Padhao Essay or dissertation within HindiAuthor: Hindiessaypedia.

The Open Field System Essay

March 01, 2016 · Dissertation in Toxins inside Hindi - पर्यावरण प्रदूषण पर हिंदी निबंध Essay for File corruption through Hindi- भ्रष्टाचार पर निबंध मै उम्मीद करता हु की आपको article in Beti Bachao Beti Padhao पसंद आया होगा!

aletheiawritingmagazine.com uses cookies. By continuing we’ll assume you board with our cookie policy.